Ticker

6/recent/ticker-posts

#ताजमहल भारत के ऐतिहासिक स्थलों में से एक यह है जो अजूबों में से एक है यह अजूबा

ताज महल



Taj Mahal 

भारत के कई हिस्सों में ऐतिहासिक स्थल है और सामग्री मौजूद है प्राचीन किले हैं भव्य महल है इन सारे ऐतिहासिक स्थलों में से कई अस्थल है | जिसे लोग प्यार के प्रतिक, वीरता के प्रतीक, ताकत और युद्ध के प्रतिक माना जाता है | इन सारे स्थलों में से एक स्थल है | जो प्यार के प्रतीक है | जिसे महल भी बोला जाता है | वह है ताजमहल जो भारत का गर्व बढ़ाता है | और यहां कई टूरिस्ट लोग घूमने के लिए भी आते हैं | यह एक टूरिस्ट प्लेस भी है | चलिए जानते हैं ताजमहल के बारे में |


समुद्र सतह से ऊंचाई:  171 मी. 561 फ़ीट है | 

निर्माण:   1632-1653 बिच हुआ था | 

वास्तुकार:   उस्ताद अहमद लाहौरी

वास्तु शैली: मुगल

निर्दिष्ट: 1983 और 7 वां सत्र 

संदर्भ सं: 252

स्थान: आगरा, भारत

राष्ट्र:  भारत

क्षेत्र : एशिया-प्रशांत 

निर्देशांक: 27.174799°N 78.042111°E


ताजमहल भारत के आगरा शहर में स्थित है यह एक विश्व धरोहर के रूप में जाना जाता है जिसे विश्व धरोहर मकबरा भी कहा जाता है इसका निर्माण मुगल साम्राज्य के शाहजहां ने अपने मुमताज के लिए मुमताज की यादगार में बनवाया था | ताजमहल मुगल साम्राज्य के एक बेहतरीन नमूना है |


ताजमहल को भारत रत्न के रूप में माना जाता है और इसे घोषित भी किया गया है इसे  श्वेत गुंबद एवं टाइल आकर में सफेद संगमरमर से ढका है | इनके बीच में मकबरा आपने श्रेष्ठता और सौंदर्य को अलग ही रूप में दर्शाता है | 






ताजमहल को एक प्यार का प्रतीक माना गया है और इसे देख हर लोग प्रसन्न हो जाते हैं वहां जाते ही अलग नजारा दिखने को मिलता है जिससे लोग बहुत पसंद करते हैं 

इसका निर्माण सन 1648 ईसवी में लगभग पूरा हुआ था |ताजमहल पर पाई जाने वाली सुलेखन फ्लोरिड थुलुठ लिपि का है | ताजमहल के ऊपर एक बृहद गुंबद स्थित है जो ताजमहल की सुंदरता बढ़ाती है इसके मूल घटक फारसी मूल के हैं।

ताजमहल के चारों कोनों पर विशाल मीनारें स्थित है यह 40 मीटर ऊंची है | यह चारो मीनारें ताजमहल का एक अलग ही रुक देती है यह मीनारें अजान देने वाली मीनार की तरह बनाई गई है यह चारों बाहर की ओर से हल्की झुकी हुई है जिससे कि यह गिरे तो बाहर की तरफ से गिरे और मुख्य इमारत को कोई छती ना हो | ताजमहल को बनाने में लगभग 32 मिलीयन रुपए लगने का अनु
मान लगाया जाता है | इसे बनाने के लिए लगभग 20000 कारीगरों को रोजगार दिया गया था | 

Aeroplane :--

आगरा उतर प्रदेश में  एक खेरिया हवाई अड्डा से ताजमहल का रास्ता 6.2 किलोमीटर है लगभग 10 से 20 मिनट का रास्ता है

By train :--

आगरा छावनी स्टेशन,राजा की मंडी स्टेशन और आगरा किले के अन्य दो स्टेशन है | दिल्ली से आगरा का जोड़ने के लिए ट्रेनें पैलेस ऑन व्हील्स, शताब्दी, राजधानी और ताज एक्सप्रेस हैं। आगरा स्टेशन से ताजमहल का रास्ता 20 मिनट का है | 

By road :-- 


यदि आप दिल्ली से आगरा आ रहे हैं तो आईएसबीटी बस स्टैंड से दिल्ली, जयपुर, मथुरा, फतेहपुर-सीकरी आदि के लिए कई बसें हैं। आप टैक्सी किराए पर ले कर जा सकते हैं। 


Post a Comment

0 Comments